एनजीटी में केस निपटा, राजस्थान बंद करे गंदा पानी

संवादसहयोगी,धारूहेड़ा(रेवाड़ी):राजस्थानसेआरहेदूषितपानीकोलेकरचलरहाकेसआखिरकारनेशनलग्रीनट्रिब्यूनलनेढाईसालकेबादबंदकरदियाहै।एनजीटीनेधारूहेड़ामेंआनेवालेगंदेपानीकेलिएराजस्थानकोजिम्मेदारठहरायाहैऔरवहांकीसरकारवप्रशासनकोइसपानीकोबंदकरनेकेआदेशजारीकिएहैं।एनजीटीकेआदेशहालहीमेंजिलाप्रशासनकोभीमिलेहैं,जिसकेबादउपायुक्तपंकजवएसडीएमकुशलकटारियाकेसाथहीअन्यअधिकारियोंनेयहांकेसेक्टरछह,चार,भिवाड़ीमोड़वनंदरामपुरबासगांवकादौराकियाऔरभिवाड़ीवखुशखेड़ाऔद्योगिकक्षेत्रकाजायजालिया।

2015मेंडालागयाथाकेस

औद्योगिकक्षेत्रभिवाड़ीसेधारूहेड़ाकेसेक्टरछहवचारमेंऔरखुशखेड़ासेगांवनंदरामपुरबासमेंकईसालोंसेदूषितएवंरसायनयुक्तपानीआरहाहै।पानीसेपरेशानसेक्टरछहनिवासीनपाउपचेयरपर्सनसुमित्रामुकदमकीओरसेजुलाई2015मेंएनजीटीमेंयाचिकादायरकीगईथी।याचिकादायरहोनेपरएनजीटीकेनिर्देशपरकेंद्रीयप्रदूषणनियंत्रणविभागकीटीमनेभिवाड़ी,धारूहेड़ावनंदरामपुरबासगांवमेंपानीकेसैंपललिएगएथे।करीबतीनसालतककेसचलनेकेबादएनजीटीकीओरसेभिवाड़ीप्रदूषणविभागवराजस्थानसरकारकोदोषीबतातेहुएएसटीपीकीक्षमताबढ़ाने,प्रदूषणकररहीकंपनियोंपरकार्रवाईकरनेकेनिर्देशदिएगएहैं।इन्हींनिर्देशोंकेसाथ12दिसंबर2017कोकेसकानिपटाराकरदियागया।

नहींथमरहादूषितपानी

तीनसालतककेसचला,बार-बारराजस्थानकेअधिकारियोंकोदोषीबतातेहुएपानीनहींछोड़नेकेलिएनिर्देशभीदिएगए,लेकिनस्थितिआजभीवहीबनीहुईहै।जिलेकेआलाअधिकारियोंनेजबदौराकियातोभिवाड़ीसेधारूहेड़ामेंफिलहालपहलेसेकमपानीहीआरहाहै,जबकिखुशखेड़ासेदूषितपानीकीस्थितिअभीभीबनीहुईहै।नंदरामपुरबासमेंदूषितपानीलगातारआरहाहै।

एनजीटीमेंचलरहेमामलेकीफाइलकानिपटाराकरदियागयाहै।गंदेपानीकेलिएराजस्थानसरकारकोजिम्मेदारठहरायागयाहै।फैसलाहालहीमेंजिलाप्रशासनकेपासपहुंचाहै।उपायुक्तकेसाथउनस्थानोंकादौराकियागया,जहांपरगंदापानीआताहै।कईजगहोंपरगंदापानीअभीभीआरहाहै,जिसकेबाबतराजस्थानकेअधिकारियोंसेबातचीतकीजाएगी।गंदेपानीकोलेकरराजस्थानकीतरफसेसमाधाननहींनिकालागयातोउनकेखिलाफफिरसेनेशनलग्रीनट्रिब्यूनलकादरवाजाखटखटायाजासकताहै।

-कुशलकटारिया,एसडीएमरेवाड़ी।