एक माह से पेयजल संकट से जूझ रहे शहरवासी

जागरणसंवाददाता,ऊधमपुर:शहरमेंपिछलेकरीबएकमाहसेलोगोंकोपेयजलकिल्लतकासामनाकरनापड़रहाहै।जोपानीमिलताहैवहभीसाफनहींहोता।यहीकारणहैकिलोगपीनेकेपानीकेलिएबार-बारपीएचईविभागकेखिलाफप्रदर्शनकरनेपहुंचजातेहैं।विभागकेअधिकारीभीमानतेहैंकिपेयजलकीकमीतोहै,लेकिनउतनीनहींजितनीबताईजारहीहै।

शहरकेविभिन्नक्षेत्रोंमेंरहनेवालोंकीमानेंतोपीएचईकीतरफसेबहुतकमपानीकीआपूर्तिकीजातीहै,जिसकारणउनकाकामनहींचलसकता।पांडवतालाबनिवासीगौतमसेनसनकहतेहैंकिपानीकभीदोदिननहींआता,तोकभीपूरेदिनमेंमात्र15मिनटआताहै।इतनेकमसमयमेंपूरेघरकापानीनहींभराजासकता।पानीकीआपूर्तिनहोनेकेकारणलक्ष्मीनारायणमंदिरमेंभीएकबूंदपानीनहींहै,जिसकारणश्रद्धालुओंकोभीपरेशानीहोरहीहै।एकतोलोगोंकोपर्याप्तमात्रामेंपानीनहींमिलता।जोपानीमिलताहैवहइतनागंदाहोताहैकिउसेपीयानहींजासकता।लंबीगलीनिवासीअनुरागखजूरियाकाकहनाहैकिरिहायशीइलाकोंमेंपीएचईकर्मीकमपानीखोलतेहैं,जबकिबाजारकेहोटलोंकेलिएभरपूरपानीहै।यहपीएचईकीमिलीभगतकापरिणामहै।इससंबंधमेंवेअनेकबारपीएचईकेसभीअधिकारियोंसेशिकायतभीकरचुकेहैं।

पीएचईकेअधिकारियोंकाकहनाहैकिबारिशकेमौसममेंपानीगंदाआताहै,जिसकारणफिल्टरप्लांटमेंउसकीसफाईभीठीकसेनहींहोपातीहै,लेकिनअबसुधारहोरहाहै।

कहां-कहांपरहैअधिकदिक्कत

शहरकेसुभाषनगर,लंबीगली,पांडवतालाब,रामनगरचौक,चबूतरा,सैलातालाब,दोमेल,हाऊसिंगकॉलोनी,जखैनी,गंगेड़ासमेतअन्यक्षेत्रोंमेंपेयजलकीदिक्कतअधिकहै।

चारलाखगैलनकमपानीकीहोरहीसप्लाई

ऊधमपुरशहरकोवर्तमानसमयमेंकरीब36लाखगैलनपानीकीआवश्यकताहै,लेकिनपीएचईविभागमांगकेविपरीत36लाखगैलनपानीहीउपलब्धकरवापारहाहै।अर्थातकरीबचारलाखगैलनपानीकीसप्लाईकमहै।

ऊधमपुरशहरमेंपहलेपेयजलआपूर्तिकमहोरहीथी।इससेलगातारबारिशकेकारणगंदापानीआरहाथा।उसेफिल्टरकरसाफकरनेमेंभीदिक्कतहोरहीथी।इसकेसाथहीबिजलीकटौतीकाभीअसरपड़रहाथा,लेकिनपिछलेकुछदिनोंसेआपूर्तिमेंसुधारहोरहाहै।गंदेपानीकीसमस्याभीइसीकारणथी।चिनैनीकेपासनयाजलसंयत्रस्थापितकियाजारहाहै।इसकेबादहीस्थितिमेंसुधारहोपाएगा।मांगकेविपरीतहमचारलाखगैलनकमपानीकीआपूर्तिकरपारहेहैं।यदिकिसीक्षेत्रकेलोगोंकोशिकायतहैतोवेसीधेइससंबंधमेंबतायें।

-अशोककुमार,एक्सईएनपीएचई,ऊधमपुर