दिग्विजय सिंह ने दीमक से की RSS की तुलना, कहा- हम ऐसे संगठन से लड़ रहे, जो ऊपर से दिखता ही नहीं

दिग्विजयसिंहनेकहाकि संघसेकैसेलड़ेंगे?यहतोकोईरजिस्टर्डसंस्थाहीनहींहै।इसकीकोईसदस्यताहीनहींहै।इसकाकोईअकाउंटहीनहींहै।संघकाकोईव्यक्तिआपराधिककार्यमेंपकड़ाजाताहैतोकहतेहैंकियहतोहमारासदस्यहीनहींहै।जबआपकासंगठनरजिस्टर्डहीनहींहैतोहमबताएंगेकैसेकिकोईव्यक्तिइसकासदस्यहै।

मध्यप्रदेशकेपूर्वमुख्यमंत्रीदिग्विजयसिंह(digvijayasingh)नेराष्ट्रीयस्वयंसेवकसंघ(RSS)कीतुलनादीमकसेकीहै।इंदौर(Indore)मेंयूथकांग्रेसकेकार्यक्रमकोसंबोधितकरतेहुएउन्होंनेकहाकिआपएकऐसेसंगठनसेलड़रहेहैं,जोऊपरसेदिखताहीनहीं।जिसतरहदीमककिसीवस्तुकोछलनीकरदेताहै,उसीतरहसंघभीकामकरताहै।उन्होंनेआगेकहाकिअबउनकेइसबोलकेलिएउन्हेंसबसेज्यादागालीभीमिलनेवालीहै।

RSSपरतीखाहमलाबोलतेहुएकांग्रेस(Congress)सेवरिष्ठनेतादिग्विजयसिंहनेकहाकिदबे-छिपेकामकरनासंघकीविचारधाराहै।मैंचाहताहूंकिRSSकेलोगकईसवालोंपरमुझसेबहसकरें।तुम्हारायानीसंघकासंगठनहैकहां?रजिस्टर्डसंस्थाकहांहै?येकेवलगुपचुपतरीकेसेकामकरतेहैं।दबे-छिपेकामकरेंगे।खुलेआमकोईकामनहींकरेंगे।गुप्तरूपसेबातकरेंगे।कानाफूसीकरेंगे।गलतबातफैलाएंगे।मैंसंघकेलोगोंसेयहपूछनाचाहताहूंकिसंगठनकेरूपमेंRSSनेक्याकभीकोईधरनादियाहै?क्याकभीकोईआंदोलनकियाहै?कहींकिसीआमआदमी,किसानयामजदूरकीलड़ाईलड़ीहै?कभीनहींलड़ेंगे।कभीऊपरसेनहींआएंगे।वोहमेशाआपकेघरमेंआएंगे।आपसेकहेंगे-भाईसाहब,आपनेबहुतदिनसेचायनहींपिलाईहै।चायतोपिलाइए।भोजनतोकरादीजिए।यहलोगऐसेहीविचारधाराकोफैलातेहैं।

दिग्विजयसिंहनेयुवाकांग्रेसकार्यकर्ताओंकोसंबोधितकरतेहुएकहाकिइतनीबातसमझलेंतोआपइनसेलड़सकेंगे।संघसेकैसेलड़ेंगे?यहतोकोईरजिस्टर्डसंस्थाहीनहींहै।इसकीकोईसदस्यताहीनहींहै।इसकाकोईअकाउंटहीनहींहै।संघकाकोईव्यक्तिआपराधिककार्यमेंपकड़ाजाताहैतोकहतेहैंकियहतोहमारासदस्यहीनहींहै।जबआपकासंगठनरजिस्टर्डहीनहींहैतोहमबताएंगेकैसेकिकोईव्यक्तिइसकासदस्यहै।

दिग्विजयसिंहनेबीजेपीऔरसंघपरनिशानासाधतेहुएकहाकिहजारोंसालसेहिंदूधर्महैलेकिनउसपरकभीखतरानहींआयालेकिनअबनजानेकहांसेवहखतरेमेंपड़नेलगाहै।दिग्विजयनेकहाकिहिंदूधर्मइतनाव्यापक,विशालहैकियहांसबकोस्वीकारकियागयाहै।ईसाईधर्मपश्चिमकेदेशोंमेंबादमेंगया,पहलेयहांआया।ईसामसीहके40सालबादईसाईधर्महमारेदेशमेंआगयाथा।इस्लामयहांआठवींसदीमेंआगयाथा।तबभीहिंदुओंकोकोईखतरानहींथा।मुगलोंकाशासन500सालरहा,तबभीहिंदूधर्मकोखतरानहींरहा।ईसाइयोंऔरअंग्रेजोंकाराजडेढ़सौसालरहा,तबतोहिंदुओंकोकोईखतरानहींरहा।आजजबराष्ट्रपतिसेलेकरऊपरकेसभीपदोंपरहिंदूहैतोहिंदूधर्मकोखतराकैसेहोगया?हिंदुओंकेलिएखतराइसलिएबतायाजाताहैताकिवेलोगफासीवादीमनोवृत्तिऔरविचारधाराकोआगेलेजासके।उससेराजनीतिकरोटियांसेंकसकें।राजनीतिकपदप्राप्तकरपैसाकमासकें।