ड्रीप सिचाई पद्धति से पैसे व जल की बचत कर रहे हैं किसान

खगड़िया।आजभूजलतेजीसेनीचेखिसकरहाहै।जिसेरोकनाआवश्यकहै।फसलोंकीसिचाईमेंभीफिजूलकाजलबर्बादहोरहाहै।जिसेरोकनेवकिसानोंकोअधिकव्ययसेबचानेकोलेकरसरकारीस्तरपरड्रीपसिचाईकोबढ़ावादियाजारहाहै।इसमाध्यमसेजिलेके30किसानसिचाईकरजलकेसाथपैसेकीभीबचतकररहेहै।किसानखेतमेंपटवननकरझड़नेवपंपकेमाध्यमसेकृत्रिमवर्षाकीतरहफसलकीसिचाईकररहेहै।इससे70फीसदीतकजलकीबचतहोतीहै।वहींसरकारीस्तरसेड्रीपसिचाईप्लांटलगानेमें90प्रतिशततककाअनुदानभीदियाजारहाहै।क्याहैड्रीपसिचाई

ड्रीपसिचाईकोजलटपकनविधिभीकहाजाताहै।इसमेंकिसानखेतोंमेंपटवनकोलेकरबोरिगकरनेकेसाथमोटरवखेतोंमेंजगहजगहफव्वारानिकलनेवालाझड़नालगातेहै।जोखेतोंमेंझड़नेसेबारिशकीतरहपानीकीफुआरबरसातीहै।जिससेपौधेकेऊपरवजड़ोंमेंपर्याप्तमात्रामेंजलमिलताहै।साथहीइसविधिसेकभीभीआसानीसेपटवनकियाजासकताहै।

ड्रीपसिचाईकेफायदे

साधारणतौरपरपटवनमेंपौधेतकपानीपहुंचानेकेलिएअधिकमात्रामेंजलनालोंकेमाध्यमसेदेनापड़ताहै।इसमेंअधिकपानीखपतहोनेकेसाथपानीबेकारभीहोताहै।अधिकपानीदेनेमेंकिसानोंकोऊर्जायाईंधनकेरूपमेंअधिकव्ययकरनापड़ताहै।जबकिड्रीपसिचाईमेंपानीऊपरसेटपकताऔरआसानीसेपौधेवउसकीजड़ोंकोभिगोतीहै।इससेकिसानोंकोऊर्जावईंधनकेरूपमेंव्ययभीकमकरनापड़ताहै।

इसविधिसेसिचाईकरनेसेकईफायदेभीहै।सिचाईकरनेमेंपानीवऊर्जाएवंईंधनबचतकेसाथकिसानोंकेश्रमकीभीबचतहोतीहै।इतनाहीनहींइसविधिसेसिचाईकरनेपरफसलोंकोभीफायदापहुंचताहै।फसलोंकोअधिकपानीमिलनेकेसाथफसलोंमेंकीटव्याधिकाप्रकोपभीकाफीकमहोताहै।इसविधिमेंपौधेकेऊपरपानीटपकताहै।जिससेपौधेधूलजातेहैऔरपौधेमेंलगेकीटभीपानीसेनिकलजातेहै।खासियतयहभीहैकिइसविधिसेसिचाईकेसाथलोगफसलोंमेंदवाकाछिड़कावभीकरसकतेहै।''ड्रीपसिचाईकोटपकनविधिभीकहाजाताहै।यहविधिकमजलखपतकेसाथकिसानोंकोअधिकव्ययसेबचातीहैऔरपौधेमेंलगनेवालीकीटोंसेरक्षाभीकरतीहै।इसेलेकरकेविकेस्तरसेकिसानोंकोप्रशिक्षणभीदिएजातेहै।कईकिसानइसविधिसेखेतीकरभीरहेहैं।डॉ.अनीताकुमारी''ड्रीपसिचाईएकबेहतरसिचाईव्यवस्थाहै।इससेजल,श्रम,व्ययकीबचतहोतीहै।वर्तमानमेजिलेके30किसानइसविधिसेसिचाईकार्यकररहेहैं।इसविधिकोबढ़ावादिएजानेकोलेकरसरकारीस्तरपर90प्रतिशततककाअनुदानहै।किसानोंकोप्लांटलगाएजानेकेबादउनकेखातेमेंअनुदानकीराशिदीजातीहै।मु.जावेद,जिलाउद्यानपदाधिकारी