डीटीएफ अतिरिक्त प्रभार वाले स्कूलों में स्थायी डीडीओ देने की मांग

संवादसूत्र,सादिक:हालहीमेंहुएतबादलोंकेबावजूदजिनशासकीयवरिष्ठमाध्यमिकविद्यालयोंकेप्रधानाध्यापकोंकोपूर्वकेविद्यालयोंकाअतिरिक्तप्रभारदियागयाहै,उनस्कूलोंकेकर्मचारियोंकेवेतनमेंबड़ेपैमानेपरकमीहोनेकीसंभावनाहै।तथ्ययहहैकिउक्तविद्यालयोंकेअतिरिक्तप्रभारवालेप्रधानाध्यापकोंनेपंजाबएवंहरियाणाउच्चन्यायालयमेंएकयाचिकादायरकरअतिरिक्तप्रभारकेआदेशकोनिरस्तकरनेकीमांगकीथी,जिसपररोकलगादीगईहै।परिणामस्वरूपउक्तविद्यालयकेडीडीओसेवंचितरहगएहैं।

डीटीएफफरीदकोटनेयहांजारीएकप्रेसबयानमेंजिलाध्यक्षसुखविदरसिंहसादिकऔरजिलासचिवगगनपाहवानेमांगकीकिफरीदकोटजिलेसहितराज्यभरकेमाध्यमिकविद्यालयइससमस्याकासामनाकररहेहैं।नेताओंनेपंजाबसरकारऔरशिक्षाविभागकेप्रतिनिधियोंसेमांगकीकिबिनाकिसीदेरीकेउक्तस्कूलोंकोनएडीडीओदिएजाएं,ताकिकर्मचारियोंकोसमयपरवेतनमिलसके।डीटीएफपंजाबकेप्रदेशअध्यक्षदिग्विजयपालशर्मानेकहाकिपंजाबसरकारशिक्षाकेक्षेत्रमेंसबसेआगेहोनेकादावाकरतीहै,बाहरीराज्योंकेसाथसमझौतेकरकेलेकिनराज्यकीजमीनीहकीकतकोसमझेबिनाशिक्षामाडलमेंसुधारकावादाकरतीहै।पंजाबकेस्कूलोंमेंहजारोंरिक्तियांहैं,सैकड़ोंस्कूलोंमेंस्थायीप्राचार्यऔरप्रधानाध्यापककाअभावहै।ऐसेमेंस्कूलोंकास्तरकैसेऊंचाकियाजासकताहै।उन्होंनेपंजाबसरकारसेमांगकीकिविभागीयप्रोन्नतिकेकारणसभीविद्यालयोंकोयथाशीघ्रस्थायीप्रधानाध्यापकतथासभीउच्चविद्यालयोंकोप्रधानाध्यापकप्रदानकियाजाये।उन्होंनेचेतावनीदीकियदिजल्दसेजल्दअस्थायीव्यवस्थाकीगईतोप्रभावितस्कूलोंकोडीडीओमेंस्थानांतरितकरदियाजाएगा।यदिवेतनकाभुगताननहींकियाजाताहैऔरसमयपरभुगतानसुनिश्चितनहींकियाजाताहैतोएकतीव्रसंघर्षसेबचानहींजासकेगा।बयानकाजिलाकमेटीसदस्यप्रदीपसिंह,कुलदीपसिंहघनिया,लवकरणसिंह,सुरिदरपुरी,हरजसदीपसिंह,अवतारसिंहऔरहरविदरसिंहनेसमर्थनकिया।