डेंगू से बचाव के बारे में दी जानकारी

संवादसहयोगी,तलवाड़ा:सीएचसीभोलकलोतामेंडा.अनुपिद्रकौरएसएमओकेनेतृत्वमेंडेंगूजागरूकतासेमिनारकरवायागया।कार्यक्रमकासंचालनकररहेडा.लश्करएमओएमडीनेउपस्थितलोगोंकोडेंगूफैलानेवालेमच्छरकीरोकथाम,डेंगूसेबचाव,इसकेलक्षणएवंइसकेनिदानकेबारेमेंजानकारीदी।उन्होंनेकहाकिअगरहमबीमारीहोनेसेपहलेहीसावधानीव्रतलेंतोइनकेगंभीरपरिणामोंसेसस्तेमेंबचाजासकताहै।

डेंगूकाबुखारहोनेपरतुरंतडाक्टरकीसलाहलेनीचाहिए।अपनेआसपासकेस्थानोंपरपानीकोखड़ानहोनेदेंऔरपूरेशरीरकोढंकनेवालेकपड़ेहीपहनकररखे।गर्मीकेमौसममेंहररोजसाफसुथराएवंस्वस्थभोजनलें।गर्मीकेमौसममेंखूबतरलपदार्थएवंपानीकाअधिकसेअधिकसेवनकरें।अधिकगर्मीमेंघरसेबाहरजानेसेबचें।इसअवसरपरदेविदरहेल्थइंस्पेक्टर,कमलेशएलएचवी,बलजिदर,रजनीदेवी,अदिति,इंदूवालासीएचओयोगराज,हरभजनसिंह,पवनकुमार,सतविदरसिंह,भूपिदरसिंह,राजेशकुमार,परवीनकुमार,प्रभातसिंह,रशिम,शैली,नरिदर,मंदीपकौर,मीनू,मीनारानी,पवन,आशा,विनयकुमारआदिभीमौजूदथे।