डैमों की कोख में गाद, सूख रहे खेतों के हलक

बांका।पहाड़औरनदियोंकीअधिकतादेखआजादीकेतुंरतबादकीसरकारोंनेजिलेमेंजलाशयोंकेनिर्माणकीकतारलगादी।छठेऔरसातवेंदशकमेंजिलेमेंआधादर्जनसेअधिकबड़ेजलाशयोंकानिर्माणहुआ।इसकेअलावाकईछोटीजलाशयोंसेभीखेतोंकीप्यासबुझानेकाकामहुआ,लेकिनपांचदशकबादजिलेमेंसिचाईसुविधाएककदमआगेनहींबढ़पाई।

जलाशयोंकीसंख्याबढ़ानेकीबजाय,पहलेकेजलाशयोंकाकोखगादयानीसिल्टजमाहोनेसेभरगया।सबसेबड़ेचांदनजलाशयकादोतिहाईहिस्सागादसेभरगयाहै।यानीपहलेकीतुलनामेंइसमेंअबएकतिहाईहीपानीसिचाईकेलिएजमाहोरहाहै।इसस्थितिमेंडैमभीतभीकामकरताहै,जबबारिशहोतीहै।यानीइसबारअच्छीबारिशसेखेतोंमेंखुदबखुदपानीहै।ऐसेमेंसिचाईविभागशतप्रतिशतसिचाईकालक्ष्यपूराकररहाहै।पिछलेसालजबबारिशनहींहोनेसेसूखापड़ा,तबसभीडैमनेहाथखड़ेकरदिए।अभीपांचमहीनेसेचांदनडैमकापानीबहकरनदीमेंबेकारबहरहाहै।ओढ़नी,विलासी,हनुमना,दरभाषण,डकरा,मध्यगिरीसभीजलाशयोंकीएकसीकहानीहै।इससेरबीकीकौनपूछेबरसातमेंखरीफफसलतकभीठीकसेपानीनहींपहुंचपाताहै।

पांचकरोड़मेंघोघाबियरकाजीर्णोद्धार

हालियावर्षोंमेंसिचाईसुविधाकेलिएपांचकरोड़कीराशिघोघाबियरकेजीर्णाेद्धारमेंखर्चकीगईहै।इसकेअलावाबौंसीमेंझारखंडजानेवालीपानीकेनहरकोभीठीककियागयाहै।दोनोंचांदनजलाशययोजनाकाहीकामहै।इसकेअलावासिचाईविभागशहरमेंसदरअस्पतालकेसमीपएकआईबीकानिर्माणकरोड़ोंरुपयेकीलागतसेकरारहीहै।तीनोंयोजनाओंकोकरीबअंतिमरूपदियाजाचुकाहै।इसकेबादभीजेठौरमेंघोघाबीयरस्कीमकेसमीपचांदननदीकाअधिकांशपानीफाटकजर्जररहनेसेनदीमेंबेकारबहजाताहै।

पानीकीहोव्यवस्थातोसोनाउगलेगीधरती

किसानोंकामाननाहैकिकोरोनाकालकेबादकृषिक्षेत्रमेंलोगबढ़ेहैं।खेतीमेंसबसेज्यादाखर्चपानीमेंबहजाताहै।ऐसेमेंजरूरीहैकिसिचाईसुविधाबढ़ानेकासरकारप्रयासकरें।अमरपुरकेकिसानविवेकानंदसिंहऔरपरमानंदरामबतातेहैंकिघोघाबियरसेहीसलेमपुरऔरतारडीहइलाकेमेंपानीपहुंचानेकीयोजनाथी।मामूलीखर्चसेसिचाईविभागकिसानोंकाकरोड़ोंरुपयेबचासकताहै।सदाबहडांडमेंपानीगिरानेकाइंतजामनहींहुआ।विधायककेभरोसेकेबादअधिकारीभीआए,लेकिनकामनहींहुआ।बांकाकेदिवाकरसिंहबतातेहैंकिवेलोगनहरकेकिनारेहैं,लेकिनरबीमेंपानीमुश्किलसेमिलपाताहै।किसानोंकोजलाशयऔरबिजलीदोनोंतरफसेपानीउपलब्धकरानेकीयोजनापरसरकारोंकोकामकरनाचाहिए।

जलाशयोंमेंगादभरनेसेपानीकाठहरावकमहुआहै।निश्चितरूपसेइससेसिचाईप्रभावितहोतीहै।चांदनजलाशयसेगादनिकलानेकीयोजनापरसरकारकामकररहीहै।इसकाप्राक्कलनबनाकरसरकारकोभेजागयाहै।गादनिकासीकेतरीकोंपरविचारहोरहाहै।इसकेबादचांदनजलाशयकिसानोंकेलिएउपयोगीबनजाएगा।

विनोदकुमार,कार्यपालकअभियंता,सिचाईप्रमंडल,बांका-बौंसी