डाडासीबा में लीकेज से सूखा ऐतिहासिक तालाब

कमलजीत,डाडासीबा

ऐतिहासिकधरोहरोंकेसंरक्षणकेलिएसरकारेंदावेकरतीहैंलेकिनवास्तविकताइससेकोसोंदूरहै।डाडासीबामेंसरकारकीअनदेखीसेऐतिहासिकतालाबलीकेजहोनेसेसूखचुकाहै।लोगोंनेइसकेअंदरकूड़ाफेंकनाशुरूकरदियाहै।

स्थानीयदुकानदारसतीशठाकुर,रजतसूद,प्रवीणमेहता,विजयसोनी,अजयसोनी,कुलभूषणडोगरा,हैप्पीठाकुर,राजकुमार,सुनीलकुमारवराजेंद्रकुमारनेबतायाकिकिसीसमयतालाबडाडासीबारियासतकीमुख्यपहचानथी।कईबारनेताओंनेइसकीमरम्मतकेलिएलाखोंकाबजटदेनेकीघोषणाकीलेकिनपरिणामढाककेतीनपातहीसाबितहुआहै।

उन्होंनेसरकारसेतालाबकाजीर्णोद्धारकरइसेपर्यटनकीदृष्टिसेविकसितकरनेकीमांगकीहै।तालाबकेलिएडाडासीबाखड्डसेपानीकूहलकेमाध्यमसेआताथा।कूहलकरीबएककिलोमीटरलंबीथीलेकिनइसकेबंदहोनेसेतालाबमेंपानीनहींपहुंचताहै।प्रशासनभीइसदिशामेंकोईकदमनहींउठारहाहै।तालाबकानिर्माण1831मेंडाडासीबारियासतकेतत्कालीनराजाश्यामसिंहनेकरवायाथा।उससमयरियासतकेकईक्षेत्रोंमेंपानीकीउचितसुविधानहींहोतीथी।डाडासीबाबाजारकेबीचतालाबकानिर्माणकरनेकाउद्देश्ययहांरहनेवालेऔरराहगीरोंकोपेयजलसुविधादेनाथा।राजानेबाजारमें30मीटरलंबातालाबबनायाथा,जोअबसूखगयाहै।प्रशासननेतालाबकीमरम्मतकरवाईहैलेकिनलीकेजहोनेसेपानीनहींटिकताहै।लीकेजरोकनेमेंप्रशासनकेहाथखड़ेहोगएहैं।

कुछसालपहलेतालाबपानीसेभरारहताथाऔरदूर-दूरसेलोगधार्मिकआस्थाकेकारणयहांमछलियोंकोखाद्यपदार्थडालतेथेलेकिनअबयहसूखचुकाहै।

तालाबडाडासीबाबाजारकेबीचहै।किसीसमययहखूबसूरतीकेलिएजानाजाताथालेकिनकुछसालोंसेयहसुंदरताखोचुकाहै।इसेबचानेकेप्रयासहोनेचाहिए।

पानीनहोनेसेलोगोंनेअबतालाबमेंकूड़ाडालनाशुरूकरदियाहै।जिलाप्रशासनकोतालाबकेजीर्णोद्धारकेलिएजल्दउचितकदमउठानाचाहिए।

कभीतालाबकापानीपीनेकेलिएइस्तेमालकियाजाताथालेकिनपेयजलयोजनाओंकानिर्माणहोनेसेइसकामहत्वघटतागया।अबतालाबपूरीतरहसूखगयाहै।

बदहालतालाबकीमरम्मतकरवाईजानीचाहिए,क्योंकियहडाडासीबाकीपहचानरहाहै।प्रशासनकोइसकीमरम्मतकरवानेकेलिएजल्दकदमउठानाचाहिए।

तालाबकेनिर्माणपरकरीब35लाखखर्चहोंगे।इतनीराशिपंचायतकेपासनहींहै।ऐतिहासिकधरोहरकोबचानेकेलिएविधायकवसांसदसेबजटकीमांगकीजाएगी।

-पंडितपरमेश्वरीदास,उपप्रधान,पंचायतडाडासीबा

ऐतिहासिकतालाबडाडासीबाकीधरोहरहै।लीकेजरोककरइसमेंपानीभराजानाचाहिए।प्रशासनकोतालाबकेजीर्णोद्धारकेलिएजल्दकदमउठानाचाहिए।

-राजेंद्रसिंहगोगा,अध्यक्ष,व्यापारमंडलडाडासीबा

तालाबकीमरम्मतकाकार्यमनरेगाकेतहतकरवायाजाताहै।इसमेंपानीनहींठहरताहैतोनईतकनीककेमाध्यमसेइसकीमरम्मतकरवाईजाएगी।

-कंवरसिंह,खंडविकासअधिकारीपरागपुर