बुजुर्ग की हत्या के मामले में चार लोगों को आजीवन कारावास

जागरणसंवाददाता,चम्पावत:छहसालपूर्वबरातकेगावलौटतेवक्तहुएविवादकेबाददूल्हेकेपिताकीहत्याकेमामलेमेंशनिवारकोकोर्टनेचारअभियुक्तोंकोआजीवनकरावासकीसजासुनाईहै।इसमामलेमेंपाचवेंअभियुक्तकीपूर्वमेंहीमौतहोचुकीहै।

गौरतलबहैकिदिसंबर2013कोटाणनिवासीप्रकाशगड़कोटीकीबारातरमकगावगईहुईथी।बरातविदाईसेपहलेमैक्सयूके04टीए,4791केचालकपुष्करसिंहऔरकुछबरातियोंकेबीचकिसीबातकोलेकरविवादहोगयाथा।उसकेबादबरातरमकसेटाणकीओरबरातलौटनेलगीथी।चौड़ाकॉनगावपहुंचतेहीचालकपुष्करसिंहनेगाड़ीसड़ककिरानेखड़ीकरमार्गअवरूद्धकरकरदियाथा।उसकेबादपुष्करऔरउसकेपाचछहअन्यसाथियोंनेलाठी-डंडोंऔरलोहेकीरॉडसेबरातियोंपरहमलाकरदियाथा।आरोपितोंनेबीचबचावमेंआएदूल्हेकेपिताकीसरियोंऔरडंडोंसेपीटकरहत्याकरदीथी।मृतककेपुत्रराजेंद्रगड़कोटीनेमंगललेखनिवासीपुष्करसिंहपुत्रमोतीसिंह,कैलाशसिंहपुत्रगंगासिंह,प्रकाशरामपुत्रगणेशराम,ईश्वरीरामपुत्रदेवराम,हयातरामपुत्रदनीरामकेखिलाफपाटीथानेमेंआइपीसीकीधारा147,148,323और302केतहतमुकदमादर्जकियाथा।हत्याकेपाचवेंआरोपितईश्वरीरामकी2018मेंमौतहोगईथी।शेषकामामलाजिलाएवंसत्रन्यायालयमेंचलरहाथा।जिलाजजआशीषनैथानीनेइसमामलेमेंचारोंअभियुक्तोंपरदोषसिद्धकरतेहुएआजीवनकरावासकीसजाऔर10-10हजाररुपयेकाअर्थदंडलगायाहै।वहींइसमामलेपुष्करसिंहकेपितामोतीसिंहनेभीदूल्हाप्रकाशऔरउसकेभाईराजेंद्रकेखिलाफभीमुकदमादर्जकरायाथा।कोर्टनेदोनोंकोदोषमुक्तकरदियाहै।