BJP के पूर्व विधायक राम इकबाल सिंह ने थामा सपा का दामन, भाजपा पर लगातार कर रहे थे हमला

रामइकबालअक्सरअपनेबयानोंमेंभारतीयजनतापार्टीकीसरकारपरनिशानासाधतेरहेहैं।उनकेबयानोंसेयहअटकलेंपहलेसेलगाईजारहीथींकिवहजल्दहीसपामेंशामिलहोसकतेहैं।वहविधासभाचुनावलड़नेकीभीतैयारीकररहेहैं।

उत्तरप्रदेशमेंआगामीविधानसभाचुनाव(Upelection2022)सेपहलेभाजपाकेपूर्वविधायकरामइकबालसिंह(RamIqbalSingh)नेसोमवारकोअपनेसमर्थकोंकेसाथसमाजवादी(SP)कादामनथामलिया।रामइकबालसिंहबलियाकीचिलकहरविधानसभासीटसे2002मेंविधायकबनेथे।सपाकीओरसेसोशलमीडिया(SocialMedia)केमाध्यमसेयहजानकारीदीगयीहै।रामइकबालसिंहनेयहांसपाअध्यक्षअखिलेशयादव(AkhileshYadav)सेमुलाकातकरसपाकीसदस्यताग्रहणकी।

सपाकेआधिकारिकट्विटरहेंडलपरबतायागया,सपाकाबढ़ताकारवां।माननीयराष्ट्रीयअध्यक्षजीकेनेतृत्वमेंआस्थाजतातेहुएबलियाकीचिलकहरविधानसभासेभाजपाकेपूर्वविधायकरामइकबालसिंहजीअपनेसाथियोंकेसाथसपामेंहुएशामिल।आपकाहार्दिकस्वागतएवंअभिनंदन।अखिलेशद्वारासिंहकोपार्टीमेंशामिलकरायेजातेहुयेतस्वीरभीपार्टीकीओरसेसोशलमीडियापरसाझाकीगयीहै।रामइकबालअक्सरअपनेबयानोंमेंभारतीयजनतापार्टी(BJP)कीसरकारपरनिशानासाधतेरहेहैं।उनकेबयानोंसेयहअटकलेंपहलेसेलगाईजारहीथींकिवहजल्दहीसपामेंशामिलहोसकतेहैं।वहविधासभाचुनावलड़नेकीभीतैयारीकररहेहैं।

रामइकबालसिंहकईबारमोदीसरकारकीआलोचनाकोलेकरसुर्खियोंमेंआचुकेहैं।उन्होंनेकृषिकानूनोंपरभीकेंद्रकीमोदीसरकारकोघेरतेहुएकहाथाकियेकानूनवापसलेनाचाहिए।अगरकिसानोंकेहितसेबारेमेंसोचनाहैतोबेहतरहैकिसरकारकिसानोंसेसहमतिलेकरनयाबिललेकरआए।इतनाहीनहीं,उन्होंनेकहाथाकिसरकारकोकिसानोंकेखूनसेनहानेकीआदतअबबंदकरदेनीचाहिए।पूर्वविधायकरामइकबालसिंहनेकेंद्रीयगृहराज्यमंत्रीअजयमिश्रा'टेनी'मामलेपरकहाथाकिउनकेउकसावेवालेभाषणकीवजहसेहीलखीमपुरखीरीकांडहुआथा। सरकारनेलखीमपुरकांडकोलेकरअपनीकिरकिरीकराईहै।इससेविपक्षियोंकोराजनीतिकरनेकाकरनेकामौकामिलगयाहै।रामइकबालसिंहनेकोरोनाकीसंभाविततीसरीलहरसेनिपटनेकेलिएमुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथ(YogiAdityanath)कीसरकारकीतैयारियोंपरभीसवालउठाएथे।

कीहरबड़ीसीटकाग्राउंडरिपोर्ट,हरबड़ेमुद्देपरएक्सपर्टएनालिसिस,बड़ेनेताकाइंटरव्यू,इलेक्शनबुलेटिन,हॉटसीट्सकाहाल,कैंडिडेटकीप्रोफाइलऔरउनकीलाइफस्टाइल,बाहुबलियोंकाहाल...AsianetnewsHindiपर360डिग्रीकवरेजकेसाथपढ़ेंयूपीविधानसभाचुनावकाहरअपडेट।