बदलाव के बिना दियारा का विकास संभव नहीं: ई धर्मेंद्र

खगड़िया।खगड़ियाविधानसभाक्षेत्रमेंदियाराकेविकासकामुद्दागहरागयाहै।दियाराइलाकेमेंप्रत्याशियोंनेसघनप्रचारअभियानकेंद्रितकररखाहै।निर्दलीयप्रत्याशीई.धर्मेंद्रनेगुरुवारकोकोसी-बागमतीदियाराकेउत्तरीमरारकेमधुआ,मोरकाही,बेलोर,सिमराहा,छमसिया,बेतहा,खारोआदिगांवोंमेंजनसंपर्ककिया।उन्होंनेकहाकिराजनीतिकइच्छाशक्तिकीकमीकेकारणखगड़ियाकाविकासनहींहुआहै।आजभीदियाराइलाकाशिक्षा,स्वास्थ्यसमेतअन्यमामलोंमेंपिछड़ाहुआहै।उन्होंनेबदलावकीअपीलकी।कहाकिबदलावलाकरहीहमखगड़ियाकोविकासकेमानचित्रपरस्थापितकरसकतेहैं।उन्होंनेआत्मनिर्भरखगड़ियाकीअपीलकी।उन्होंनेकहाकिशैक्षणिकविकाससेखगड़ियाकेविकासकामार्गप्रशस्तहोगा।इसमौकेपरगोपालयादव,शैलेंद्रकुमार,पप्पूयादव,मिथिलेशकुमार,दिलीपकुमार,रिकूकुमार,रबोयादव,राजीवकुमार,फुदोशर्मा,रणवीरकुमार,पांडवकुमार,अमितकुमार,शंभुकुमार,कारेलाल,बिट्टूसिंह,प्रकाशआदिमौजूदथे।