बढ़ती जनसंख्या देश के विकास में सबसे बड़ी बाधा

रोहतास।विश्वजनसंख्यादिवसपरबुधवारकोजिलेमेंकार्यक्रमोंकीधूमरही।कहींरैली,तोकहींगोष्ठीआयोजितकरदेशकेविकासमेंबढ़तीजनसंख्याकोबाधकबतायागया।सदरअस्पतालमेंसुराज,जयप्रभाग्रामविकासमंडल,परिवर्तनविकाससमेतअन्यस्वयंसेवीसंस्थाओंनेसंयुक्तरूपसेपरिवारनियोजनमानवाधिकारविषयपरपरिचर्चाआयोजितकी।जिसमेंवक्ताओंनेपरिवारनियोजनमेंसमुदायकीभूमिकाकेमहत्वपरविस्तारसेप्रकाशडाला।उद्घाटनराज्यबालसंरक्षणआयोगकीसदस्यप्रमिला¨सह,सिविलसर्जनडॉ.जनार्दनशर्मा,जिपसदस्यउषापटेल,एसीएमओ,बालकल्याणसमितिकीजिलाध्यक्षउर्मिला¨सहसमेतअन्यनेसंयुक्तरूपसेकिया।

आयोगकीसदस्यनेकहाकिचाहेपरिवार-समाजशिक्षितहोयाअशिक्षित।हरकिसीकेलिएपरिवारनियोजनउतनाहीजरूरीहै,जितनाकिउसेजीनेकेलिएहवा,भोजनवपानी।बढ़तीजनसंख्याविकासमेंसबसेबड़ीबाधाहै।इसकेकारणआजदेशमेंगरीबीवबेराजगारीदोनोंसुरसाकीमुंहकीतरहबढ़रहीहै।बहरहालतरक्कीकादूसरानामहैपरिवारनियोजन।वहींसिविलसर्जननेकहाकिजनसंख्यावृद्धिकोनियंत्रितकरनेकेलिएपरिवारनियोजनकाकार्यक्रमसरकारद्वारालगातारचलाएजारहेहैं।पुरुषोंकेलिएजहांनसबंदीवहींमहिलाओंकेलिएबंध्याकरणकार्यक्रमचलाएजारहेहै।परिवारनियोजनकरनेवालेपरिवारकोसरकारसेप्रोत्साहनराशिभीदीजातीहै।जिसकाभागीदारहरदंपतिकोबननाचाहिए,तभीहमदो,हमारेदो,छोटापरिवार,सुखीपरिवारकासपनासाकारहोगा।परिचर्चाकोडॉ.र¨वद्रनाथठाकुर,पूर्वप्रमुखबेचू¨सहमहतो,पीएनबीकेपूर्वप्रबंधकब्रजमोहन¨सहसमेतअन्यशामिलथे।संचालनअरूणकुमारतिवारीनेकिया।