अरुणाचल में चली विकास की ट्रेन

ईटानगरपूर्वोत्तरकेपिछड़ेपनकेलिएखराबसंपर्कसुविधाओंकोजिम्मेदारठहरातेहुएप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेशुक्रवारकोकहाकिकेंद्रविकासकीराहकीमुश्किलोंकोदूरकरनेकेलिएइसक्षेत्रकेराज्योंकेसाथमिलकरकामकररहाहै।दोट्रेनोंकोशुरूकरनेऔरएकबिजलीप्रोजेक्टकीआधारशिलारखनेकेबादप्रधानमंत्रीनेकहा,'अरुणाचलप्रदेशकोआजगतिऔरऊर्जादोनोंमिलरहेहैं।'अरुणाचलप्रदेशकोदेशकेरेलवेमैपमेंऔपचारिकरूपसेलानेकेबादमोदीनेकहाकिआजशुरूकिएगएप्रोजेक्टसेसंपर्कसुविधाओंकोबढ़ावामिलनेकेसाथबिजलीमिलेगीजोगरीबीकेखिलाफसंघर्षमेंप्रभावीमाध्यमबनेंगे,क्योंकिमहजनारेबाजीसेयहलड़ाईनहींजीतीजासकती।यदिअरुणाचलप्रदेशविकासकरेगातोभारतभीविकासकरेगा।प्रधानमंत्रीनेरिमोटकंट्रोलसेनहारलागूनऔरनईदिल्लीकेबीचएसीएक्सप्रेसट्रेनऔरनहारलागून-गुवाहाटीकेबीचइंटरसिटीएक्सप्रेसकाशुभारंभकिया।साथही,अरुणाचलकेनहारलागूनऔरअसममेंलखीमपुरजिलेकेहारमुतिकेबीच21.75किलोमीटरलम्बीब्रॉडगेजरेलवेलाइनकोदेशकोसमर्पितकिया।बिजलीप्रोजेक्टमोदीने132किलोवॉटइलेक्ट्रिसिटीट्रांसमिशनऔरडिस्ट्रिब्यूशनसिस्टमप्रोजेक्टकीआधारशिलारखीऔरईटानगरवॉटरसप्लाईप्रोजेक्टकाशुभारंभकिया।उन्होंनेकहाकिराज्यकीराजधानीऔरराष्ट्रीयराजधानीकोजोड़नेवालीनईट्रेनसेटूरिजमइंडस्ट्रीतरक्कीकरेगी।हाइड्रोपावरकाइस्तेमालकरअरुणाचलप्रदेशपूरेदेशकोबिजलीदेसकताहै।7400करोड़कापैकेजमोदीनेकहाकिकेंद्रनेअरुणाचलप्रदेशमेंरेलवेपरियोजनाकेलिए4200करोड़रुपयेऔरपावरप्रोजेक्टकेलिए3200करोड़रुपयेतयकिएहैं।मैंयहजानकरदुखीहूंकिराज्यकीराजधानीकेलोगोंकोसुरक्षितपानीदेनेमेंस्वतंत्रभारतको60साललगगए।जयहिंदबोलनाआमचलनमोदीनेकहाकिअरुणाचलप्रदेशदेशकाइकलौताराज्यहैजहांलोग'जयहिंद'बोलकरएक-दूसरेकाअभिवादनकरतेहैं।इसमौकेपरप्रधानमंत्रीयहांकेपारंपरिकपरिधानमेंनजरआए।उन्होंनेपरंपराकोजीवंतरखनेकेलिएलोगोंकीसराहनाकी।अरुणाचलकोचाहिएस्पेशलपैकेज:तुकीमुख्यमंत्रीनबामतुकीनेप्रधानमंत्रीसेराज्यकेविकासकेलिएस्पेशलपैकेजमांगा।उन्होंनेकहाकियहांटूरिजमकोबढ़ावाऔरआमजनताकोसहूलियतदेनेकेलिएग्रीनफील्डएयरपोर्टप्रोजेक्ट,कम्युनिकेशननेटवर्क,सेफड्रिंकिंगवाटर,स्मार्टसिटी,हाइड्रोपावरप्रोजेक्ट,रीजनलफिल्मऔरटेलीविजनइंस्टीट्यूटऔरकमसेकमतीनस्मार्टसिटीबनाएजानेकीतत्कालजरूरतहै।सीएमनेकहाकिराज्यकेचौतरफाविकासकेलिएएम्स,आइआइटीऔरआइआइएमकेअलावासैनिकस्कूलभीबनाएजानेकीजरूरतहै।