अदालती फैसले ने उड़ाई यूपी के बाहुबलियों की नींद

सुप्रीमकोर्टकेआपराधिकपृष्ठभूमिकेनेताओंपरदिएगएफैसलेकेबादसेउत्तरप्रदेशकेबाहुबलियोंकीनींदउड़ीहुईहै.अदालतनेनेताओंकेजेलसेचुनावलड़नेकीपरिपाटीतोखत्मकरहीदीहै.साथहीयहभीकहाहैकिजेलयाकानूनीरूपसेपुलिसहिरासतमेंरहनेवालाव्यक्तिविधायीनिकायोंकाचुनावनहींलड़सकताहै.कानूनकीनिगाहमेंअपराधीऔरअदालतसेसजायाफ्तालोगअबसंसदऔरविधानसभाओंमेंनहींबैठसकेंगे.

सुप्रीमकोर्टनेराजनीतिकाअपराधीकरणरोकनेकीदिशामेंअहमफैसलासुनातेहुएअदालतसेसजापाएसांसदों-विधायकोंकीसदस्यताबरकराररखनेवालेकानूनकोअसंवैधानिककरारदियाहै.

उत्तरप्रदेशमें2012मेंहुएविधानसभाचुनावमेंअपनादल,भारतीयसमाजपार्टी,पीसपार्टी,कौमीएकतादल,इंडियनजस्टिसपार्टी,प्रगतिशीलमानवसमाजपार्टीजैसेछोटेदलबाहुबलीऔरमाफियामुख्तारअंसारी,बृजेशसिंह,मुन्नाबजरंगी,अतीकअहमद,डीपीयादवकेसियासीहमराहीरहचुकेहैं.

अतीकअहमदऔरमुख्तारअंसारीसपावबसपाकेप्रत्याशीरहचुकेहैं.लोकसभाचुनावकेमद्देनजरअंसारीबंधुओंनेकौमीएकतादलबनायाहैऔरउसकेबैनरतलेमुख्तारअंसारीवाराणसीसे,उनकेबड़ेभाईअफजालअंसारीबलियासेबाबूसिंहकुशवाहागाजीपुरसेचुनावलड़नेकीफिराकमेंहैं.

बाहुबलीअतीकअहमदनेअपनादलप्रत्याशीकेरूपमेंप्रतापगढ़सेचुनावलड़नेकाऐलानकियाहै.कथितमाफियाडीपीयादवबदायूंकेसहसवानसीटसेएकबारफिरदो-दोहाथकरनेकोतैयारहैं.पिछलीविधानसभामेंवेऔरउनकीपत्नीइसीदलसेविधायकथेलेकिनसुप्रीमकोर्टकेफैसलेसेमाफियाबबलूश्रीवास्तव,बाहुबलीधनंजयसिंह,अभयसिंह,रामूद्विवेदी,नसीमुद्दीनसिद्दीकी,रंगनाथमिश्र,राकेशधरत्रिपाठी,बादशाहसिंह,रामवीरउपाध्याय,रामअचलराजभरसमेतकईनेताओंकीसियासीउम्मीदोंपरपानीफिरसकताहै.

उत्तरप्रदेशमेंदागीमाननीयोंकीएकलंबी-चौड़ीफौजहै.प्रदेशकेकुल403विधायकोंमेंसे189अर्थात47प्रतिशतविधायकोंकेखिलाफआपराधिकमामलेदर्जहैं.इनमेंसे98परहत्या,बलात्कारजैसीसंगीनधाराओंमेंरिपोर्टदर्जहै.

सूत्रोंअनुसारसमाजवादीपार्टीके224विधायकोंमेंसे56परगंभीरमामलोंसहित111केसदर्जहैं.बसपाके80विधायकोंमेंसे14परगंभीरमामलोंसहित29केखिलाफमुकदमेचलरहेहैं.भाजपाके47मेंसे25विधायकोंकेखिलाफआपराधिकमामलेविचाराधीनहैं.इनमें14परगंभीरआरोपहैं.कांग्रेसके28मेंसे13विधायकोंपरआपराधिकमामलेदर्जहैं.

गंभीरअपराधोंवालेटॉपटेनविधायकोंमेंनंबरएकपरसपाकेबीकापुरसेविधायकमित्रसेनयादवहैं.उनकेखिलाफ36मामलेहैं.इनमेंसे14मामलेहत्याकेहैं.दूसरेनंबरपरमाफियाडॉनबृजेशसिंहकेभतीजेसुशीलसिंहकानामहै.सकलडीहासेनिर्दलीयविधायकसुशीलसिंहपर20मामलेदर्जहैं.इनमेंसे12मामलेहत्याकेहैं.तीसरेनंबरपरजसरानाकेसपाविधायकरामवीरसिंहकानामहै.रामवीरकेखिलाफकुल18मामलेदर्जहैं.मुख्तारअंसारीकेखिलाफभीहत्याकेआठमामलोंसहित15मामलेदर्जहैं.

सुप्रीमकोर्टकेऐतिहासिकफैसलेकेपीछेलखनऊकेएकगैरसरकारीसंगठनलोकप्रहरीकीपहलरहीहै.इससंगठनकेसचिवएसएनशुक्लानेशीर्षअदालतकेफैसलेकोऐतिहासिकबतातेहुएकहाकिसंगठनने2005मेंसुप्रीमकोर्टमेंयाचिकादाखिलकीथी.फिरलिलीथॉमसनेभीएकऔरयाचिकादायरकीथी.

मुलायम,मायावतीसमेत1448नेताओंपरतलवार

इससमयभाजपाकेवरिष्ठनेतालालकृष्णआडवाणी,मुरलीमनोहरजोशी,कल्याणसिंह,उमाभारती,सपाप्रमुखमुलायमसिंहयादव,बसपाप्रमुखमायावती,

पूर्वभाजपानेतायेदियुरप्पा,राजदप्रमुखलालूप्रसादयादव,वाईएसआरकांग्रेसकेप्रमुखजगनमोहनरेड्डी,अन्नाद्रमुकप्रमुखजयललितासहितकईनामचीनराजनीतिकहस्तियोंकेखिलाफविभिन्नअदालतोंमेंमामलेविचाराधीनहैं.

फैसलेकीसर्वाधिकमारक्षेत्रीयदलोंकेनेताओंकोभुगतनीपड़सकतीहै.इससमयदेशके162सांसददागीहैं.इनमेंसे75केखिलाफसंगीनआरोपहैं.4292विधायकोंमेंसे1286विधायकोंकेखिलाफआपराधिकमामलेदर्जहैं.

अदालतीफैसलेपरबयानबाजी

सर्वोच्चन्यायालयकाफैसलामहत्वपूर्णवस्वागतयोग्यहै.पिछले20वर्षोंमेंराजनीतिकाअपराधीकरणहुआहै.धनबलऔरबाहुबलकाप्रभावबढ़ाहै.उम्मीदहैकिसभीदलपरइसपरगंभीरतासेविचारकरेंगे.आशाहैकिइसकेसार्थकपरिणामसामनेआएंगे.-रीताबहुगुणाजोशी,कांग्रेस

फैसलादेखकरटिप्पणीकरूंगा.मैंनेअभीफैसलेकोदेखानहींहै.अदालतनेकिसग्राउंडपरफैसलादियाहै,यहभीमालूमनहींहै.-स्वामीप्रसादमौर्य,बसपा

लोकतंत्रकहींपुलिसकेहाथकीकठपुतलीनबनजाए.यहफैसलाकाफीक्रांतिकारीहै,लेकिनजहांपुलिसरोजसैकड़ोंफर्जीमुकदमेलिखतीहो,मारडालतीहो,आंदोलनकारियोंकोपीटतीहो,उनपरगोलीचलातीहोऔरउनपरमुकदमाकरतीहोवहांक्यायहकारगरसाबितहोगा?ऐसानहोकिइसफैसलेसेलोकतंत्रहीमरजाए.इसफैसलेकोअगरसरकारवसत्तानेविपक्षकेउत्पीड़नकामाध्यमबनालियातोआपातकालसेभीबुरीस्थितिबनजाएगी.-सीपीराय,सपा

फैसलेसेजनप्रतिनिधित्वकानूनमेंएकबड़ाबदलावहोगाऔरआपराधिकचरित्रकेलोगोंकीमुश्किलेंबढ़ेगी.अभीतकदागीचरित्रकेराजनेताअदालतमेंदोषसिद्धहोनेकेबादभीसत्तामेंबनेरहतेथेलेकिन,अबऐसामुमकिननहींहोगा.इसकानूनकासकारात्मकअसरसियासतमेंजरूरदेखनेकोमिलेगा.-एसएनशुक्ला,लोकप्रहरीसंगठन