अब लखनऊ और गौतमबुद्धनगर के DCP भी लगा सकेंगे गुंडा एक्ट; आसान नहीं होगी जमानत, संपत्ति जब्त भी होगी

उत्तरप्रदेशविधानमंडलबजटसत्रकाआजसातवांदिनथा।इसदौरानविधानसभामेंउत्तरप्रदेशगुंडानियंत्रण(संशोधन)विधेयक-2021पासहोगया।यहविधेयकसिर्फदोजनपदलखनऊऔरगौतमबुद्धनगरकमिश्नरेटमेंलागूहोगा।इसकेबादवित्तीयवर्ष2021-22केलिएपेशकिएगएबजटपरसाधारणचर्चाकीगई।कांग्रेसकेप्रदेशअध्यक्षअजयलल्लूनेUPमेंबेरोजगारीकामुद्दाउठाया।कहाकिBJPनेअपनेसंकल्पपत्रमें5सालमें70लाखरोजगारदेनेकावादाकियाथा।लेकिनCMनेअबतकमहज4लाखरोजगारदेनेकादावाकियागया।

आसानीसेलगेगागुंडाएक्ट,जमानतभीनहींमिलेगीआसानीसे

संसदीयकार्यमंत्रीसुरेशखन्नानेकहाकिगुंडानियंत्रणविधेयकसेपुलिसकमिश्नरेटव्यवस्थाकोमजबूतीमिलेगी।अबलखनऊऔरगौतमबुद्धनगरमेंDCPगुंडाएक्टकेतहतकार्रवाईकरसकेंगे।पहलेयेअधिकारपुलिसकमिश्नरकेपासथा।विधेयकमेंमानवतस्करी,मनीलॉड्रिंग,गोहत्या,बंधुआमजदूरीऔरपशुतस्करीपरकड़ाईसेरोकलगानेकाप्रावधानहै।इसकेअलावाजालीनोट,नकलीदवाओंकाव्यापार,अवैधहथियारोंकानिर्माणऔरव्यापार,अवैधखननजैसेअपराधोंपरगुंडाएक्टकेतहतकार्रवाईकाप्रावधानहै।गुंडाएक्टमेंपकड़ेगएअपराधियोंकीआसानीसेजमानतनहींहोपाएगी।इसकेअलावाअपराधियोंकीसंपत्तिभीजब्तकीजाएगी।

नएप्रावधानकेतहतपुलिसअपराधियोंको14दिनकेबजायअधिकतम60दिनकेलिएबंदकरसकतीहै।इसकेअलावादूसराविधेयकउत्तरप्रदेशलोकएवंनिजीसंपत्तिविरूपणनिवारणविधेयक2021कोइससदनमेंप्रस्तुतकरतेहुएपासकियागया।

बेरोजगारीकेमुद्देपरलल्लूनेसरकारकोघेरा

कांग्रेसप्रदेशअध्यक्षअजयलल्लूनेकहाकि2016सेलेकर2019केबीचनिकालीगयी24भर्तियोंमेंसे22भर्तियांअभीतकअटकीहुईहैं।अभ्यर्थीआएदिनराजधानीमेंधरना-प्रदर्शनकरनेकोविवशहैं।अहंकारीऔरसंवेदनहीनसरकारनेइनकोअपनेहालपरछोड़दियाहै।प्रदेशकीविकासदरघटकरलगभग6.4प्रतिशतरहगईहै।पिछलेदोसालोंमेंही12.50लाखपंजीकृतबेरोजगारबढ़ेहैं।सरकार90दिनोंमें5लाखरोजगारदेनेजैसेझूठेदावेकरकेबेरोजगारोंऔरयुवाओंकामजाकउड़ारहीहै।प्रदेशमेंआर्थिकतंगीऔरबेरोजगारीकेचलतेआयेदिनयुवाबेरोजगारोंकीआत्महत्याकेआंकड़ेबढ़रहेहैं।