अब दम तोड़ने के कगार पर रेलवे का समृद्ध तालाब

साहिबगंज:कभीशहरकीशानरहारेलवेकासमृद्धतालाबअबदमतोड़नेकेकगारपरहैइसकाअस्तित्वखतरेमेंहै।अंग्रेजोंकेजमानेमेंइसीतालाबसेस्टीमइंजनोंमेंपानीभरनेकाकामहोताथा।झरनाकॉलोनीकेलोगइसीकेआसरेअपनीदैनिककार्यकलापपूरीकरतेथे।कभीसाहिबगंजकेरेलकॉलोनियोंकोजिसतालाबसेपानीसप्लाईहोतीथी।कईएकड़मेंफैलेतालाबपरअबघासफूसनेअपनाप्रभुत्वकायमकरदियाहै।रेलअधिकारीबतातेहैंकिअबमालदारेलमंडलकेअधिकारीइसेभरकरइसपररेलवेकाप्रोजेक्टबनानेकीसोचरहेहैं।तालाबमेंकईमौतेंडूबनेसेहोनेकेबादइसेभूतहातालाबभीअबकुछलोगकहनेलगेहैं।

जिससमयरेलवेमेंस्टीमइंजनचलतीथीउससमयसाहिबगंजमेंरेलवेकासमृद्धलोकोहुआकरनाथा।साहिबगंजकेसैकडोंरेलवेक्वार्टरजोखालीपड़ेहैंउसमेंरेलकर्मीसपरिवाररहतेथेउससमयरेलवेकायहतालाबपानीकीजरुरतेंपूरीकरताथा।रेलवेकेसाउथकालोनीमेंतालाबकेकिनारेइंजनकाडस्टफेंकाजाताथा।अबहालतयहहैकिरेलवेमेंरहनेवालेपरिवारोंकेलोगइसतालाबमेंकचराफेंकनेकाकामकरतेहैं।तालाबकामहत्वलोकोबंदहोनेएवंस्टीमइंजनबंदहोनेकेबादसेहीकमहोताजारहाहै।

क्याकहतेहैंसाहिबगंजकेरेलकर्मी

रेलवेकातालाबअबधीरेधीरेगादसेभरताजारहाहै।गहराईकमहोतीजारहीहै।रेलवेकर्मीमनोजकुमारबतातेहैंकिरेलवेकेइसतालाबकामहत्वअबभीकमनहींहैपरंतुरेलवेइसकाजीर्णोंद्धारनहींकरारहाहै।तालाबमेंमछलीपालनसेभीरेलवेकोअच्छीआमदनीहोतीथी।रेलकर्मीराकेशकुमारकाकहनाहैकितालाबमेंपानीरहनेकेकारणआसपासकेघरोंकाजलस्तरमेंटेनरहताहैचापाकलोंमेंपानीसालोंभरआताहैपरंतुअगरयहबंदहोगयातोरेलवेमेंपहलेसेज्यादापानीकेलिएहाहाकारमचजाएगा।

साहिबगंजरेलवेकेपुरानेतालाबकीदेखरेखचलरहीहै।किसीयोजनाकेलिएतालाबकोभरनेकीयोजनाफिलहालनहींहै।रेलवेकेपासप्रोजेक्टकेलिएजमीनकीकमीनहींहै।रेलवेतालाबकोबेहतरस्वरुपप्रदानकेलिएकार्यकरेगी।

सहायकअभियंतारेलवे