AAP सांसदों का संसद भवन परिसर में प्रदर्शन, राजद्रोह के मुकदमे पर बोले संजय सिंह- कभी बंद नहीं करूंगा अपनी आवाज

नईदिल्लीउत्तरप्रदेशकीयोगीसरकारकीओरसेसांसदसंजयसिंहपरराजद्रोहकीधारामेंमुकदमाकराएजानेसेनाराजआमआदमीपार्टीकेसांसदोंनेशुक्रवारकोसंसदपरिसरमेंगांधीप्रतिमाकेसामनेविरोधप्रदर्शनकिया।इसदौरानसांसदोंनेजमकरनारेबाजीकीऔरराजद्रोहकेकेसकोयोगीसरकारकीतानाशाहीकरारदिया।सांसदोंनेदेशद्रोहकानूनकादुरुपयोगबंदकरनेकीमांगकी।आमआदमीपार्टीकेसांसदऔरउत्तरप्रदेशकेप्रभारीसंजयसिंहनेकहाकिउत्तरप्रदेशमेंरंगदारीवसूलना,हत्याकरवाना,घोटालाऔरभ्रष्टाचारकरनादेशद्रोहनहींहै,लेकिनसरकारकेअन्यायकेखिलाफआवाजउठानादेशद्रोहहै।उन्होंनेकहा,'अगरमैंदेशद्रोहीहूंतोमुझेगिरफ्तारकियाजाएनहींतोफर्जीमुकदमालिखनेवालोंकेखिलाफकार्रवाईहो।'उन्होंनेकहाकिसत्ताकेउत्पीड़न,उसकेदंभ,अहंकारऔरसत्ताकीज्यादतियोंकीलोगोंनेबहुतसारीकहानियांसुनीहोगी,लेकिनयोगीसरकारइनसबसेसेभीदोकदमआगेहै।सिंहनेकहाकि3महीनेमेंमेरेखिलाफ13मुकदमेदर्जकिएगए।इतनेमुकदमेयूपीमेंकिसीमाफियाकेखिलाफनहींदर्जकिएगए।सिंहनेपूछा-क्याथामेरागुनाह?संजयसिंहनेकहा,'मेरागुनाहक्याहै?मेराअपराधक्याहै?यहीकिमैंनेउत्तरप्रदेशमेंहोरहीज्यादतीऔरअपराधकेखिलाफआवाजउठाई,मैंनेउत्तरप्रदेशमेंहोरहीब्राह्मणोंकीहत्याकामामलाउठाया,दलितोंकीहत्याकामामलाउठाया।मैंनेउत्तरप्रदेशमेंराजभरसमाज,मौर्यसमाज,पालसमाज,यादवसमाज,निषादसमाजकेसाथहोरहेअन्यायकामुद्दाउठाया।'उन्होंनेकहाकिमेरेऊपरदेशद्रोहइसलिएलगगया,क्योंकिमैंनेपत्रकारविक्रमजोशीकीहत्या,तीनबारकेविधायकरहेनिर्वेन्द्रमिश्राकीऔरसंजीतयादवकेअपहरणऔरहत्याकामुद्दाउठाया।योगीजीकेकोरोनाकिटखरीदमेंआठ-आठसौपर्सेंटकमीशन,दलालीऔरभ्रष्टाचारकेखिलाफआवाज़उठाई।लखनऊजाकरदूंगागिरफ्तारीराज्यसभासांसदनेकहाकिपहलेआईटीऐक्टकेतहतअज्ञातमेंमुकदमालिखागया,लेकिनमैंनेकोरोनाघोटालेकोसंसदमेंउठादियातोमेरेपासनोटिसआगयाऔरआईटीऐक्टकेमुकदमेमेंदेशद्रोहकीधाराबढ़ादीगई।उन्होंनेकहा,'मैं20तारीखकोलखनऊमेंहजरतगंजथानेमेंजाकरअपनीगिरफ्तारीदूंगा।मुझेमालूमहैकिमुझेगिरफ्तारकरजेलभेजाजाएगा।मेरेऊपरएकनहीं,1000मुकदमेमेरेऊपरकरदो,जितनादिनचाहेजेलमेंरखो,लाठियांचलवाओ,मुकदमेलिखवाओ,लेकिनआपयहकभीमतसोचनाकिमैंअपनीआवाजबंदकरलूंगा।'पुलिसकाबेजाइस्तेमालकररहीयोगीसरकार:मानआमआदमीपार्टीकेसांसदभगवंतमाननेबीजेपीपरकिसानविरोधीहोनेकाआरोपलगाया।उन्होंनेकहाकिसरकारनेकिसानोंकीआयदोगुनीकरनेकावादाकियाथालेकिनकालाकानूनलाकरकृषिक्षेत्रऔरकिसानकोबर्बादकरनेपरतुलगईहै।उत्तरप्रदेशकीयोगीसरकारतानाशाहीकेबदौलतपुलिसकाबेजाइस्तेमालकरआमजनताकीआवाजदबानेकीकोशिशकररहीहै।उन्होंनेकहाकिलोकतांत्रिकव्यवस्थामेंजुल्मऔरतानाशाहीठीकनहींहै।