आधे से भी कम हुई बारिश, पिछड़ रही धान की खेती

रोहतास।मानसूनकीबेरुखीसेसूखेजैसेहालातदेखकरअन्नदाताकेचेहरोंपरहवाइयांउड़तीनजरआरहीहैं।तेजगर्मीवबारिशकेअभावमेंधानकेकटोरेकेकिसानोंकीमाथेपरपसीनाआनेलगेहैं।धानकीरोपाईतोदूरकिसानअबबिचड़ाबचानेकोलेभीजद्दोजहदकररहेहैं।जिलेमें¨सचाईकासंकटगहरायाहुआहै।फसलेंसूखरहीहैं।धानकीरोपाईलेटहोरहीहै।जबकिदूसरीतरफरिहंदवबाणसागरसेकमपानीमिलनेकेचलतेनहरोंमेंभीपर्याप्तपानीनहींछोड़ागयाहै।कृषिविभागकेअनुसारजिलेमें1.95लाखहेक्टेयरमेंधानकीखेतीकालक्ष्यरखागयाहै,लेकिनअबतकमात्र25फीसदधानकीरोपनीहीहोसकीहै।ऐसेमेंइसवर्षसमयसेधानकीखेतीहोनेकोलेकिसानोंमेंसंशयहै।।किसानोंकोजेठबैसाखचलेपुरवाई,समझोआषाढ़सावनधूलउड़ाई..जैसीघाघकीकहावतेंयादआनेलगीहैं।नहींदिखरहेबारिशकेआसार

जुलाईबीतनेकोहैऔरबारिशकेआसारनहींदिखरहेहैं।जिससेधानकेबीजअभीनर्सरीमेंहीमुख्यखेतमेंरोपाईकोलेइंतजारकररहेहैं।कईजगहतोपानीकेअभावमेंसूखरहेहैं।मौसमविभागकेअनुसारअबतकजिलेमें56फीसदकमबारिशहुईहै।बुधवारतकजिलेमेंबमुश्किल25फीसदधानकीरोपनीहीहोपाईहै।मानसूनकीबेरुखीकाआलमयहहैकिजिलेमेंजूनमें116एमएमबारिशहोनीचाहिएथी,लेकिनमात्र54एमएमबारिशहीहुईहै।जबकिजुलाईमेंभीअबतकलगभग64एमएमवर्षाहोनीचाहिएथी,लेकिन44फीसदहीबारिशहुईहै।वैसेपूरेमाहमें318एमएमबारिशहोनीचाहिए,जबकिअभीआनेवालेसप्ताहमेंअच्छीबारिशकेआसारनहींदिखरहेहैं।इसमाहमें40फीसदकमबारिशदर्जकीगईहै।देरसेबारिशहुईतोउत्पादनप्रभावित

कृषिविशेषज्ञोंकीमानेंतोअगरएकसप्ताहतकबारिशनहींहुईतोधानकीरोपनीप्रभावितहोजाएगी।जिससेउपजमेंकाफीकमीआसकतीहै।वहींअ¨सचितक्षेत्रोंमेंसूखेकासंकटउत्पन्नहोजाएगा।आषाढ़बीतनेकोहैऔरपानीबरसनेकीदूर-दूरतककोईसंभावनानहींहै।किसानडीजलचलाकरबिचड़ाबचानेमेंलगेहैं।मानसूनीबारिशकेअभावमेंउमसभरीगर्मीसेलोगहालबेहालहोउठेहैं।पूरेदिनपसीनेसेलोगतरबतररहतेहैं।आकाशमेंबादलछाएरहतेहैं,लेकिनकिसानोंकोरिझाकरबिनबरसेलौटजातेहैं।