40 साल बाद मिलने जा रहे पानी से ग्रामीणों में खुशी

संवादसहयोगी,कालाकोट:पिछलेचारदशककेलंबेइंतजारकेबादपंचायतजुंगड़ियालईस्टकेग्रामीणोंकोकेंद्रसरकारकीनेशनलरूरलड्रिकिगवाटरप्रोग्राम(एनआरडीडब्ल्यूपी)केतहतअगलेकुछदिनोंमेंपानीमिलनेजारहाहै।इससेग्रामीणोंमेंखुशीकामाहौलहै।

ग्रामीणोंकाकहनाहैकि40सालसेहमलोगपानीमुहैयाकरवानेकीमांगकोलेकरजद्दोजहदकररहेथे,लेकिनअबहमारीपानीकीमांगपूरीहोनेजारहीहै।वहीं,सरपंचमास्टरकेवलशर्मानेबतायाकिपंचायतकेनौवार्डोमेंकरीबतीनहजारलोगपानीकीसमस्यासेजूझरहेथे,जिसेदेखतेहुएकईबारबैकटूविलेजकार्यक्रमऔरजनतादरबारमेंभीइससमस्याकोजोर-शोरसेउठायागयाऔरअबकहींजाकरपानीकीमांगहमारीपूरीहोनेजारहीहै।उन्होंनेकहाकिछहकिलोमीटरएरियामेंकरीबदोहजारपाइपवार्डनंबरएककलयारए,वार्डनंबरदोकलयारबी,वार्डनंबरतीनबंबोरीगाला,वार्डनंबरचारअखरकेशगढ़मेंलगादीगईहै,जबकिसिंबलगालाआदिवार्डोमेंपाइपलाइनलगानेकाकार्यजोरोंपरहै।अगलेकुछरोजमेंयहकार्यभीपूराहोजाएगा।

वहीं,उन्होंनेकहाकिग्रामीणोंकीसबसेबड़ीसमस्यापानीकीथी।वेपानीकेलिएपूरीतरहप्राकृतिकजलस्त्रोतोंपरनिर्भरथे,जिससेखासकरगर्मीकेदिनोंमेंजबप्राकृतिकजलस्त्रोतसूखकरदमतोड़देतेथेतोग्रामीणोंकोकईकिलोमीटरदूरघरोंसेपलायनकरनालोंकेसमीपजाकरडेरालगानापड़ताथा।इससेकईतरहकीदिक्कतेंपेशआतीथीं,लेकिनअबग्रामीणोंमेंकाफीखुशीहैकिउन्हेंघरमेंनलसेजलमिलनेजारहाहै।