2021 की तैयारी में क्या इतनी बदल गई हैं ममता, TMC भी अब पहले जैसी नहीं रही ?

नईदिल्ली-2011और2016केविधानसभाचुनावोंमेंधमाकेदारजीतनेटीएमसीकार्यकर्ताओंकाउत्साहकईगुनाबढ़ादियाथा।ऐसालगरहाथाकिपश्चिमबंगालमेंममताबनर्जीकीपार्टीअबअजेयबनचुकीहै।लेकिन,पिछलेलोकसभाचुनावमेंप्रदेशकेमतदाताओंनेदीदीऔरउनकीपार्टीकोसातवेंआसमानसेऐसेगिरायाकिउन्हेंखजूरपरलटकनेकोमजबूरकरदिया।अबभाजपाऔरउसकेकार्यकर्ताउत्साहसेभरगए।लेकिन,उसकेबादसेममताबनर्जीऔरउनकीपार्टीनेअपनेरवैएमेंबहुतज्यादाबदलावलानाशुरूकरदिया।उन्होंनेअपनीहीपार्टीकेभ्रष्टनेताओं-कार्यकर्ताओंकेखिलाफमोर्चाखोलनाशुरूकरदिया।दीदीनेअपनेगरममिजाजकोराजनीतिकमजबूरियोंकेचलतेशांतरखनासीखा।पार्टीऔरअपनीछविबदलनेकेलिएकुछअपनाअनुभवलगायाऔरकुछप्रोफेशनललोगोंसेइसेखरीदनेकीकोशिशकी।आइएसमझतेहैंकिदीदीऔरउनकीपार्टीमेंबीतेसालभरमेंकितनापरिवर्तननजरआरहाहै।

इसेभीपढ़ें-राहुलकासरकारसेसवाल-हमारे20निहत्थेजवानोंकीहत्याकोकैसेजायजठहरारहाचीन?