12 फुट तक भरे पानी से कई जिदगी बचा ले गए अनिल

जागरणसंवाददाता,रुद्रपुर:आपदाकेबीचकुछलोगोंनेप्रशासनकीमददकाइंतजारकिएबिनाहीअपनीजानहथेलीपररखकरकईकीजिदगीबचाली।उनमेंएकलाकेप्रैक्टिशनरअनिलयादवकानामजगतपुरागलीनंबरछहकाभीहै।सभीकाकहनाथाकिअनिलउसदिननहोतेतोशायदकईजिदगीआपदानेलीललीहोतीं।उनकाहौसलाहीथाकि12फुटतेजबहावकेपानीमेंकूदकरलोगोंकीजानबचानेमेंकामयाबहुए।जागरणटीमशनिवारकोजगतपुरमेंगलीनंबरछहमेंपहुंचीजहांपरसड़कसेकरीबसातसेआठफुटखालीजगहपरबस्तीहै।करीबदोसेढाईहजारपरिवाररहतेहैं।भीषणबारिशकेबादआईआपदानेइनघरोंकोपूरीतरहसेअपनेआगोशमेंलेलियाथा।आपदासेपूरीतरहतबाहहोचुकेलोगोंकादर्दप्रशासनकीतरफसेराहतवबचावकेनामपरअबतकखानापूरीपरछलका।उनकाकहनाथाकिजोनुकसानहुआहैउसकीतुलनामें3800रुपयेकाचेकमलहमभीनहींलगासकेगा।लोगोंनेअपनीअबतककीपीड़ाजागरणकोबताकरकहाकिउम्मीदहैकिउनकीव्यथाप्रशासनतकपहुंचेगी।

बहगईंलाकीकिताबेंलेकिनजिदंगीबचानेकेलिएहिम्मतनहींहारी

सेशनकोर्टमेंप्रैक्टिसकररहेयुवाअधिवक्ताअनिलयादवनेबतायाकिरातमेंतेजबारिशकेबादगलीमेंलगभगसभीमकानोंकेसामनेसातफुटतकपानीभरगयाथा।इसकेबादबहनवउसकेबच्चोंकेबचानेकेबादकरीब50सेअधिकलोगोंपानीसेनिकाला।इसकेबादपानीबढ़तागया।अनिलप्रशिक्षिततैराकरहेहैं।

घरकासारासामानभीगगयाहै।तीनदिनसेनालेकिनारेहीरातबितानेकोमजबूरहैं।घरमेंएकभीकमराऐसानहींरहगयाहैजहांपररहाजासके।प्रशासनकोचाहिएकिकमसेकम50-50हजाररुपयेकीआर्थिकसहायतादे।

-ज्योतिदेवी,आपदापीड़ित

इसगलीमेंसबसेअधिकबिहारकेरहनेवालेपरिवारहैं।यहांपर20से25वर्षसेसभीरहरहेहैं।रोजगारकेलिएसिडकुलपरनिर्भरहैं।आपदानेपूरेघरोंकोनुकसानपहुंचायाहै।एकभीअन्नकादानाकिसीकेघरमेंनहींबचा।

-संजयजायसवाल,आपदापीड़ित

आपदापीड़ितोंकेनुकसानकासर्वेकरायाजारहाहै।गलीनंबरछहजगतपुरामेंभीटीमकोभेजागयाहै।यहांपरपीड़ितोंकोजल्दसेजल्दराहतराशिकेचेकबांटदिएजाएंगे।किसीकोघबरानेकीजरूरतनहींहै।

-प्रत्यूषसिंह,एसडीएमसदररुद्रपुर